World Champion Boxer Mary Kom dream win gold medal in Olympics News Updates | जब तक ओलिंपिक में गोल्ड नहीं जीत लेती, तब तक हार नहीं मानूंगी: मैरी कॉम


  • 6 बार की वर्ल्ड चैम्पियन बॉक्सर मैरी कॉम ने कहा- सफलता का कोई मंत्र नहीं, सिर्फ कड़ी मेहनत जरूरी
  • मैरी कॉम ने कहा- लक्ष्य हासिल करने के लिए मुझे देशवासियों के प्यार और आशिर्वाद की जरूरत है

दैनिक भास्कर

Apr 01, 2020, 04:07 PM IST

खेल डेस्क. छह बार की वर्ल्ड चैम्पियन भारतीय बॉक्सर एमसी मैरी कॉम ने एकमात्र सपना ओलिंपिक में गोल्ड मेडल जीतना है। उन्होंने कहा कि जब तक उनका यह सपना पूरा नहीं होता, जब तक वे हार नहीं मानेंगी। 2012 लंदन ओलिंपिक में कांस्य पदक विजेता मैरी कॉम ने स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (साई)  के लिए लाइव फेसबुक के दौरान यह बात कही। इस साल होने वाला टोक्यो ओलिंपिक कोरोनावायरस के कारण एक साल टाल दिया गया है। अब यह टूर्नामेंट अगले साल जुलाई में होगा।

दुनियाभर में फैले कोरोनावायरस के कारण हजारों लोगों की जान जा चुकी है। भारत में 15 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन किया गया है। वहीं, मैरी कॉम भी पिछले महीने ही जॉर्डन की राजधानी अम्मान से लौटी थीं। तभी से वे सेल्फ क्वारैंटाइन में थीं। हालांकि उन्होंने राष्ट्रपति के एक कार्यक्रम में शामिल होकर यह नियम तोड़ दिया था। इसके लिए उनकी काफी आलोचना हुई थी।

‘ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई करना बहुत मुश्किल था’
37 साल की मैरी कॉम ने कहा, ‘‘मेरा पूरा ध्यान सिर्फ ओलिंपिक गेम्स में भारत के लिए गोल्ड जीतना है। इस उम्र में भी मैं काफी कड़ी मेहनत कर रही हूं। टोक्यो ओलिंपिक के लिए क्वालिफाई करना मेरे लिए बेहद मुश्किल था।’’ सफलता को लेकर उन्होंने कहा, ‘‘मेरे पास सफलता का कोई मंत्र नहीं है। ईमानदारी के साथ कड़ी मेहनत करो। मैं भी यही करती हूं। उतार चढ़ाव तो आते रहते हैं, लेकिन आपको अपने सपनों को साकार करने के लिए ध्यान नहीं हटाना चाहिए।’’

मैरी कॉम ने कहा, ‘‘बॉक्सिंग का मेरा सफर आसान नहीं रहा है। नेशनल, इंटरनेशनल और ओलिंपिक स्तर पर पहुंचना आसान नहीं था, लेकिन आपके अंदर इच्छाशक्ति है और जिंदगी में कुछ हासिल करना चाहते हो तो आप कर सकते हो। मेरी शुरुआती जिंदगी कठिनाईयों से भरी थी। मैं गरीब परिवार में पली-बढ़ी जहां कई तरह की मुश्किलें थी। मैं उन्हें याद तक नहीं करना चाहती हूं।’’

‘लॉकडाउन में परिवार के साथ एंजॉय कर रही हूं’
बॉक्सर ने कोरोना जैसे प्रकोप के समय सभी को अपने घर में रहने की सलाह दी है। मैरी कॉम ने कहा, ‘‘मैं भी अभी क्वारैंटाइन में हूं। घर पर रहकर भी मैं लगातार अपनी तैयारियां कर रही हूं। मैं फिट रहने की कोशिश कर रही हूं ताकि अपने लक्ष्य को हासिल कर सकूं। कभी-कभी घर पर रहना काफी मुश्किल होता है, लेकिन मैं अपने परिवार के साथ इस समय काफी एंजॉय कर रही हूं। मुझे मेरा लक्ष्य हासिल करने के  लिए देशवासियों के प्यार और आशिर्वाद की जरूरत है।’’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here