45000 मुंबईकरों के बाद सोनू सूद ने ली 25000 प्रवासी मजदूरों की जिम्मेदारी, रमजान में खाना मुहैया करा रहे



हर दिन 45000 मुंबई वासियों को भोजन उपलब्ध करा रहे सोनू सूद ने अब 25 हजार प्रवासी मजदूरों के लिए खाना उपलब्ध कराने का फैसला लिया है। रिपोर्ट्स की मानें तो वे रमजान में इन मजदूरों को भोजन उपलब्ध करा रहे हैं। बताया जाता है कि जब किसी ने उन्हें यह जानकारी दी कि कर्नाकट, उत्तर प्रदेश, बिहार और पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों के कुछ मजदूर भिवाड़ी में फंसे हुए हैं तो उन्होंने वहां कुछ रसोईघरों की व्यवस्था कराई, ताकि रोजे रखने वाले मजदूरों को खाना उपलब्ध कराया जा सके।

'हमारा एक-दूसरे के साथ खड़ा होना जरूरी'
अभिनेता ने एक बातचीत में कहा, "मैंने यह तय किया है कि पवित्र महीने में उनकी जरूरतों का ध्यान रखा जाएगा। इस कठिन समय में हमारा एक-दूसरे के साथ खड़ा होना जरूरी है। इस पहल के माध्यम से हम खास तरह का खाना उपलब्ध कराएंगे, ताकि वे दिनभर रोजा रखने के बाद भी भूखे न रहें।" रिपोर्ट्स की मानें तो सोनू ने 1.50 लाख मील उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है।

अपना होटल डॉक्टर्स को ऑफर कर चुके
इससे पहले सोनू ने मुंबई में अपना होटल मेडिकल प्रोफेशनल्स को ऑफर किया था, ताकि वे इसे कोविड-19 महामारी के बीच वेकअप के तौर पर अपना निवास बना सकें। उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा था, "यह मेरा सौभाग्य है कि मैं देश के डॉक्टर्स, नर्सेस और पैरा मेडिकल स्टाफ की थोड़ी-बहुत मदद कर पाने में सक्षम हूं, जो कि दिन रात लोगों की जिंदगियां बचाने में लगे हुए हैं। वे मुंबई के अलग-अलग इलाकों से हैं और उन्हें आराम के लिए जगह की आवश्यकता है। हमने म्युनिसिपल और प्राइवेट हॉस्पिटल्स से संपर्क किया है, ताकि वे उन्हें हमारी इस सुविधा के बारे में जानकारी दे दें।"

सोनू ने बृहन्मुंबई म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन के साथ भी करार किया है और अंधेरी, जोगेश्वरी, जुहू और बांद्रा के 45 हजार मुंबईकर्स को हर दिन खाना उपलब्ध करा रहे हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Sonu Sood providing food to 25,000 migrant workers during Ramzan

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here